Wednesday, December 27, 2006

सुस्वागतम

नव वर्ष में
साथ मिला तुम्हारा
मंगल बेला

नए साल में
पुरानी बिंदी पर
सिंदूरी आभा

नए साल में
एक लकीर नयी
हाथ तुम्हारा


7 comments:

Anonymous said...

हाईकु स्वागतम!!

संजय बेंगाणी said...

हाईकु सलाम!

Anonymous said...

नव वर्ष का स्वागत नये अंदाज में , बधाई!

श्रीश । ई-पंडित said...

नये साल में
पढ़ेंगे चिट्ठा आपका
मजा आयेगा
:)

Anonymous said...

नए साल में
एक लकीर नयी
हाथ तुम्हारा

अच्छा लगा इस हाइकू का भाव !

Anonymous said...

नए साल मे
आपके ब्लॉग पर
बढेगा ट्रेफ़िक।

Pratyaksha said...

खिलता रहे
चेहरे पर सदा
सूरज हँसी !!!

(नये साल में अमित के संग )